Happy New Year 2011

आज जब सूरज ढलेगा, तारीख बदलेगी
एक नव वर्ष दस्तक देगा

कुछ आँखें खुशी से मदहोश होंगी
एक साथी, जिसने गर्मजोशी से हाथ थामा होगा
और बोझिल अतीत, भूल जायेंगे कुछ लोग किसी के आगोश में

कुछ आँखें कोई नया भविष्य नहीं देख पाएँगी
उनका वर्तमान उनसे पुराने सवाल पूछेगा
रोटी, कपडा और मकान, और क्या हासिल हुए नए मक़ाम जैसे सवाल

कुछ आँखें काले बादलों में छिपी , चमकीली किरणें देखेंगी
अपने लिए नहीं शायद, अपनों के लिए
वो आँखें ज़िन्दगी को नए मौके देंगी

इस विश्वास से, की प्रार्थनाएं नया विश्वास देती हैं
कुछ आँखें प्रार्थना में झुकी होंगी
करबद्ध, नतमस्तक, और आसुओं से भरी आँख
प्रार्थना, जो आसुओं से शुरू होंगी और अंत भी
उसके सामने जो अप्रत्यक्ष है, पर मौजूद है

Advertisements

2 thoughts on “Happy New Year 2011

  1. very touching….brings out all the emotions one goes thru on the last day of any year 🙂 keep this sensitivity within you alive, always 🙂

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s